Monday

निकल पड़ी ओलिंपिक की मशाल


आसमान में चमक बिखेरती आतिशबाजी, खुशी से झूमते जनसमूह, कलाकारों के उल्लासपूर्ण नृत्य, करतबों और कड़ी सुरक्षा के बीच चीन के राष्ट्रपति हू जिनताओ ने इस साल अगस्त में होने वाले बीजिंग ओलिंपिक खेलों की मशाल रैली को रवाना किया।ओलिंपिक आयोजन समिति के प्रमुख लिऊ की ने राजधानी बीजिंग के थ्येन आनमन स्क्वायर में आयोजित समारोह में लाल झंडे लिए हुए खुशी से नाचते-गाते लोगों के हुजूम, अधिकारियों, नृत्य कलाकारों और छात्र-छात्राओं से मुखातिब होते हुए कहा कि यह पवित्र मशाल ओलिंपिक की महान भावना की प्रतीक है। इससे न सिर्फ तमाम उम्मीदें और सपने जुड़े हैं, बल्कि यह आनंद, दोस्ती और शांति को भी खुद में समेटे हुए है।130 दिनों की इस ओलिंपिक मशाल रैली का पहला पड़ाव कल कजाखिस्तान में होगा। यह मशाल चीन के विभिन्न प्रांतों और क्षेत्रों से होती हुई ओलिंपिक खेलों के उद्‍घाटन से दो दिन पहले छह अगस्त को बीजिंग लाई जाएगी।

No comments: