Saturday

नसबंदी कराओ, बंदूक पाओ

मध्य प्रदेश के शिवपुरी में जनसंख्या नियंत्रण के उपाय के तहत एक अनूठी पहल की गई है। यहां नसबंदी कराने वाले पुरुषों को बंदूक का लाइसेंस दिया जा रहा है।
मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डा. दिनेश कौशल ने बताया कि शुक्रवार को जिला अस्पताल में आयोजित पुरुष नसबंदी शिविर में 22 लोगों का आपरेशन किया गया था। इनमें से 19 लोगों ने हथियार के लाइसेंस के लिए आवेदन दिया है, जिन्हें जरूरी जांच-पड़ताल के बाद लाइसेंस जारी कर दिए जाएंगे।
गौरतलब है कि नसबंदी शिविर में ही लाइसेंस के फार्म जमा कराने की व्यवस्था की गई थी। इस जिले में लोगों में बंदूकों के प्रति खास आकर्षण है। बंदूक लेकर चलना यहां शान और संपन्नता की निशानी माना जाता है। इसके चलते स्वास्थ्य विभाग ने नसबंदी कराने वालों के लिए बंदूक का लाइसेंस देने का चारा फेंका। यह पहल काफी सफल भी रही।

1 comment:

राज भाटिय़ा said...

नही भाई हमे अपनी पिस्तोल ही प्यारी हे,हम वन्दुक नही लेगे.